‘अजीनोमोटो (Ajinomoto)’ जो आपके खाने का स्वाद तो बढ़ाता है, लेकिन आपकी कीमती जान का दुश्मन भी है - The Found : Latest News, Current Affairs, Articles हिंदी में...

Post Top Ad

‘अजीनोमोटो (Ajinomoto)’ जो आपके खाने का स्वाद तो बढ़ाता है, लेकिन आपकी कीमती जान का दुश्मन भी है

Share This
अजीनोमोटो (Ajinomoto) एक ऐसी चीज है जो आपके खाने का स्वाद बढ़ा देती है, ये खाने से सेहत को नुकसान पहुंचता है, यह सच है। अजीनोमोटो एक तरह का रसायन है। अजीनोमोटो को एमएसजी (MSG) के रूप में भी जाना जाता है। MSG का मतलब मोनो सोडियम ग्लूटामेट है। यह प्रोटीन का एक हिस्सा है, जिसे अमीनो एसिड कहा जाता है। अजीनोमोटो (Ajinomoto) विशेष रूप से चीनी भोजन में उपयोग किया जाता है। लोग इसका उपयोग करके भोजन को स्वादिष्ट बनाते हैं, 1908 में यह एक ब्रांड के रूप में व्यावसायिक रूप में आया। लेकिन आज इसका इस्तेमाल दुनिया के हर खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए किया जाता है।
Follow Our Facebook & Twitter Page : (The Found) Facebook Twitter
इसका इस्तेमाल कई तरह के चाइनीज फूड जैसे नूडल्स, सूप आदि में किया जाता है। अजीनोमोटो (Ajinomoto) का उपयोग बर्गर, पिज्जा और मैगी मसालों में स्वाद बढ़ाने के लिए भी किया जा रहा है। अजीनोमोटो (Ajinomoto) खाने में नमक की तरह होता है, जिसे बाजार में उपलब्ध अधिकांश खाद्य पदार्थों में डालकर खाया जाता है। यह खाने में नमक की तुलना में अधिक स्वादिष्ट होता है, लेकिन इसका अधिक सेवन आपकी सेहत बिगाड़ सकता है। अजीनोमोटो (Ajinomoto) खाने के बाद कुछ लोगों को असुविधाओं का सामना करना पड़ता है और उन्हें सिरदर्द, मतली (जी मिचलाना), उल्टी जैसी बीमारियां होती हैं। अजीनोमोटो पहली बार 1909 में एक जापानी रासायनिक वैज्ञानिक किकुने इकेदा द्वारा खोजा गया था। अजीनोमोटो में अमीनो एसिड की मात्रा सबसे अधिक होती है। गर्भवती महिलाओं को अजीनोमोटो (Ajinomoto) खाने से बचना चाहिए, क्योंकि अजीनोमोटो (Ajinomoto) में मौजूद तत्व भोजन की आपूर्ति में बाधा डाल सकते हैं, जो सीधे महिला के न्यूरॉन्स को प्रभावित करता है। इसे खाने से शरीर में सोडियम की मात्रा बढ़ती है। ब्लड प्रेशर बढ़ने का खतरा रहता है। अजीनोमोटो (Ajinomoto) भी महिलाओं में बांझपन का कारण बन सकता है। माइग्रेन का मतलब है सिरदर्द की आधी समस्या। आज की अधिकांश युवा पीढ़ी इस समस्या से परेशान है।

Subscribe to Youtube Channel : The Found (Youtube)
अजीनोमोटो (Ajinomoto) से बने खाने के पदार्थों का सेवन न करें कई बार माइग्रेन का दर्द इतना गंभीर होता है कि व्यक्ति इससे पीड़ित हो जाता है। अजीनोमोटो (Ajinomoto) के सेवन से माइग्रेन होता है। इसलिए, यदि आप माइग्रेन से बचना चाहते हैं, तो अजीनोमोटो (Ajinomoto) युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन न करें। आज ज्यादातर लोग फास्ट फूड खाना पसंद करते हैं। जंक फूड का स्वाद बढ़ाने के लिए अजीनोमोटो (Ajinomoto) का इस्तेमाल किया जा रहा है। ऐसे में यह अजीनोमोटो (Ajinomoto) आपके शरीर में सोडियम की मात्रा बढ़ा सकता है। अजीनोमोटो (Ajinomoto) के सेवन से हमें बार-बार भूख लगती है और लोग बार-बार खाना खाते हैं जिसके कारण लोग मोटे होते हैं। इसलिए, यदि आप मोटापे से बचना चाहते हैं, तो अजीनोमोटो (Ajinomoto) खाने से परहेज करें। अजीनोमोटो आपकी सेहत खराब ही करेगा, ये केवल स्वाद बढ़ाता है अजीनोमोटो (Ajinomoto) एक न्यूरोट्रांसमीटर है जो मस्तिष्क की कोशिकाओं या न्यूरॉन्स को उत्तेजित करता है, जिसके कारण आप रात भर सो नहीं पाएंगे। इसका असर यह होगा कि आप दिन में काम करते हुए सो जाएंगे। आपका काम ठीक से नहीं होगा। ऐसी स्थिति में, यदि व्यक्ति को पर्याप्त नींद नहीं मिलती है, तो व्यक्ति दिन भर कमजोर महसूस करता है और सांस से संबंधित बीमारियों का खतरा होता है। अजीनोमोटो (Ajinomoto) लेने के बाद अचानक सीने में दर्द होता है और हृदय गति भी बढ़ जाती है। उसी समय, हृदय की मांसपेशी शिथिल होने लगती है। एमएसजी यानी अजीनोमोटो (Ajinomoto) युक्त खाद्य पदार्थ बच्चों को बिल्कुल नहीं खिलाने चाहिए।

No comments:

Post Bottom Ad